Point 2 Point News
Hindi News Main Story

Indo-China border: फिर घुसपैठ नाकाम, झड़प में 20 चीनी सैनिक जख्मी.

नई दिल्ली, 25 जनवरी । ​भारत-चीन सीमा पर दोनों देशों के सैनिकों के बीच फिर निहत्थी झड़प हुई है। सिक्किम के नाकू ला में चीन के गश्ती दल के कुछ सैनिक ​​भारतीय सीमा में ​​​​घुसपैठ का प्रयास कर रहे थे जिस पर ​​भारतीय सैनिकों ने रोका। विवाद बढ़ने पर​ भारतीय और ​​चीनी सैनिकों के बीच हाथापाई हुई जिसमें दोनों ओर के जवान घायल हुए हैं। चीन की तरफ से करीब 20 सैनिकों के घायल होने की खबर है जबकि ​​भारत के 4 जवानों को चोटें आईं हैं। ​​फिलहाल स्थिति नियंत्रण में है लेकिन इस घटना के बाद सीमावर्ती इलाके में तनाव बरकरार है। दोनों देशों के बीच 16 घंटे तक चली 9वें राउंड की सैन्य वार्ता के बाद यह मामला सामने आया है। 

​भारत-चीन सीमा पर सिक्किम के नाकू ला सेक्टर में भारतीय और चीनी सैनिक करीब 8 माह बाद आमने-सामने आए हैं। तीन दिन पहले चीनी सेना ने सीमा की यथास्थिति बदलने का प्रयास करते हुए उसके कुछ सैनिक भारतीय क्षेत्र में बढ़ने की कोशिश कर रहे थे। इसी दौरान भारतीय जवानों ने पीएलए के गश्ती  को रोक दिया था। भारतीय जवान बड़ी संख्या में थे, इसलिए मजबूती से भिड़ गए। दोनों देशों के सैनिकों के बीच हुई यह झड़प सिर्फ हाथापाई तक ही सीमित रही और दोनों ओर से किसी भी तरह के हथियारों का इस्तेमाल नहीं हुआ है। इसके बावजूद झड़प में 4 भारतीय और 20 चीनी सैनिक घायल हुए हैं। फिलहाल  स्थिति अब नियंत्रण में है लेकिन इस घटना के बाद सीमावर्ती इलाके में तनाव बरकरार है। ​ 

उत्‍तरी सिक्किम के नाकू ला सेक्‍टर में यह क्षेत्र पांच हजार मीटर से अधिक ऊंचाई पर स्थित है, जो सड़क मार्ग से जुड़ा नहीं है। यहीं पर भारतीय और चीनी सैनिकों के बीच ताजा झड़प हुई है। आपसी नोक-झोंक का यह पहला मामला नहीं है। दोनों देशों के सैनिकों के बीच ऐसा तनावपूर्ण माहौल समय-समय पर बनता रहता है। मौजूदा गतिरोध बढ़ने की शुरुआत 9/10 मई, 2020 को यहीं से हुई थी जब दोनों देशों की सेनाओं के नियमित गश्त के दौरान चीन के सैनिकों ने घुसपैठ का प्रयास किया था। इसी वजह से भारतीयों और चीनी सैनिकों के बीच हाथापाई हुई थी। सेना की पूर्वी कमान ने मामले को सुलझा लिया था लेकिन आक्रामक झड़प में दोनों तरफ के सैनिकों को चोटें आई थीं।   
भारतीय सेना ने एक आधिकारिक बयान जारी करके कहा है कि उत्तरी सिक्किम के नाकु ला में 20 जनवरी को भारत और चीन के सैनिकों के बीच मामूली झड़प हुई जिसे लोकल कमांडर स्तर पर तय प्रोटोकॉल के हिसाब से सुलझा लिया गया है। भारत और चीन के कोर कमांडरों के बीच पूर्वी लद्दाख के चुशूल सेक्टर में भारतीय क्षेत्र मोल्डो में रविवार को सुबह 10.30 बजे शुरू हुई बैठक आज सुबह लगभग 2.30 बजे समाप्त हुई। यह बैठक लगभग 16 घंटे तक चली। भारत-चीन का साझा बयान अभी जारी नहीं हुआ है जिसका इंतजार है। सीमा पर तनाव को सुलझाने के क्रम में कई दौर की वार्ता हुई लेकिन अब तक कोई समाधान नहीं निकला है। इससे पहले 6 नवम्बर, 2020 को सैन्य वार्ता हुई थी।