Point 2 Point News
Hindi News National

पाकिस्तान के निशाने पर किसानों की गणतंत्र दिवस परेड

-पाकिस्तान में बनाए गए 308 ट्विटर हैंडल मिले

नई दिल्ली, 25 जनवरी : 26 जनवरी को गणतंत्र दिवस के मौके पर निकाली जाने वाली किसान ट्रैक्टर रैली पर पाकिस्तान की गंदी नजर है. दिल्ली पुलिस ने पाकिस्तान के नापाक इरादों का खुलासा किया है. दिल्ली पुलिस के स्पेशल कमिश्नर (इंटेलिजेंस) दीपेंद्र पाठक ने बताया कि पाकिस्तान से किसान ट्रैक्टर रैली को निशाना बनाने की साजिश हो रही है. उन्होंने बताया कि किसान ट्रैक्टर रैली में अशांति फैलाने के लिए पाकिस्तान में बनाए गए 308 ट्विटर हैंडल मिले हैं, जो भ्रम फैला रहे हैं.

दिल्ली पुलिस के स्पेशल कमिश्नर (इंटेलिजेंस) दीपेंद्र पाठक ने कहा कि खुफिया और विभिन्न अन्य एजेंसियों के माध्यम से हमें किसान ट्रैक्टर रैली में अशांति पैदा करने को लेकर लगातार इनपुट मिल रहे हैं. भ्रम पैदा करने के लिए पाकिस्तान से 308 ट्विटर हैंडल बनाए गए हैं. उन्होंने कहा कि 308 सोशल मीडिया हैंडल, जो पाकिस्तान से चल रहे हैं, उनके बारे में किसानों को बताया गया है.

उन्होंने कहा कि रैली को लेकर जो भी शर्त है, न्यायालय द्वारा तय रूल्स हैं, उनको ध्यान में रखकर सुरक्षा इंतजाम किए जाएंगे. दिल्ली पुलिस की किसानों के साथ बातचीत के बाद दीपेंद्र पाठक ने कहा कि आगे के प्रोसेस में लगे हैं. जिस तरह के खुफिया इनपुट हैं, उसपर कैसे कवर देंगे, अगर कोई घटना होती है तो कैसे निपटा जाएगा, इन तमाम बिंदुओं पर बात हुई है, जो लगातार जारी है.

दीपेंद्र पाठक ने कहा कि आने वाला राष्ट्रीय पर्व सुचारू तरीके से चलेगा. किसान ट्रैक्टर रैली 3 बॉर्डर से संपन्न करवाई जाएगी. सिंघु बॉर्डर, टिकरी बॉर्डर और गाजीपुर बॉर्डर से रैली निकाली जाएगी. रैली सिंघु बॉर्डर से संजय गांधी, ट्रांसपोर्ट नगर, कंझावला और बवाना होते हुए निकलेगी, टिकरी बॉर्डर से नांगलोई, नजफगढ़, झरोडा होते केएमपी एक्सप्रेस और गाजीपुर अप्सरा बॉर्डर से हापुड़ रोड, केएमपी एक्सप्रेस होते हुए 46 किमी तक निकलेगी.

दिल्ली पुलिस के स्पेशल कमिश्नर (इंटेलिजेंस) ने कहा कि अभी तक यह अनुमान है कि सिंघु बॉर्डर पर 5 हजार ट्रैक्टर, गाजीपुर बॉर्डर पर 1 हजार ट्रैक्टर और टिकरी बॉर्डर पर 8 हजार ट्रैक्टर होंगे. उन्होंने बताया कि 26 जनवरी की परेड खत्म होते ही ट्रैक्टर रैली स्टार्ट होगी. दीपेंद्र पाठक ने कहा कि ट्रेक्टर रैली को लेकर दिल्ली पुलिस और किसानों के बीच एग्रीमेन्ट हो गया है. दिल्ली पुलिस के लिए यब बहुत ही चैलेंजिंग टास्क होगा.